Sunday, May 19, 2024
spot_img
HomeBlogSovereign Gold Bond: सस्ते में घर बैठे Gold खरीदने का Best...

Sovereign Gold Bond: सस्ते में घर बैठे Gold खरीदने का Best अवसर (2023-2024) , जानिए तारीख और पूरी डिटेल

Sovereign Gold Bond: अगर आप अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई को कहीं और निवेश करने की तैयारी में है तो यह  योजना आपको सुरक्षित निवेश का अच्छे रिटर्न पर बेहतर मौका प्रदान कर रही है। इस योजना में 8% का इंटरेस्ट रेट आपको मिलेगा. इतना इंटरेस्ट रेट दूसरे किसी फिक्स्ड डिपाजिट वगैरह में निवेश करने पर प्राप्त नहीं होता है.सरकार दो नई किश्तों के साथ वापस आ रही है .

About Sovereign Gold Bond Scheme

सावरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी Bond है . इसकी एक Bond की कीमत एक ग्राम सोने के बराबर होता है. यह भारत सरकार के अधीन रिजर्व बैंक आफ इंडिया के तरफ से जारी किया जाता है. अगर आप इसमें डिजिटल मोड़ से पेमेंट करते हैं तब प्रति ग्राम ₹50 का डिस्काउंट दिया जाता है.

Aim of Sovereign Gold Bond Scheme
Sovereign Gold Bond,Symbolic,Google

Aim of Sovereign Gold Bond Scheme

सरकार का मकसद परंपरागत सोने की मांग काम करने घरेलू बचत का एक हिस्सा इस स्कीम में निवेश का सुरक्षित अवसर प्रदान करना है। इससे सरकार को सोने का इम्पोर्ट कम करना पड़ेगा तथा विदेशी मुद्रा की वचत होगी .

Sovereign Gold Bond Scheme Investment Date

इस सीरीज की पहली किस्त 19 जून से 23 जून तथा दूसरी किस्त 11 से 15 सितंबर के बीच खुली थी। भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के द्वारा वित्त वर्ष 2023-24 के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGB) की दो नई किश्तों को जारी करने की घोषणा की है। पहली किश्त 18 दिसंबर से 22 दिसंबर तक खुलेगी, जबकि दूसरी किश्त 12 फरवरी से 16 फरवरी तक खुलेगी।

पहली किश्त के लिए महत्वपूर्ण तिथियां

  • आवेदन की शुरुआत: 18 दिसंबर, 2023
  • आवेदन की समाप्ति: 22 दिसंबर, 2023
  • इश्यू प्राइस की घोषणा: 15 दिसंबर, 2023

दूसरी किश्त के लिए महत्वपूर्ण तिथियां

  • आवेदन की शुरुआत: 12 फरवरी, 2024
  • आवेदन की समाप्ति: 16 फरवरी, 2024
  • इश्यू प्राइस की घोषणा: 9 फरवरी, 2024
Advantage of Sovereign Gold Bond
Sovereign Gold Bond scheme,Symbolic,Google

Advantage ofSovereign Gold Bond

सरकार इस योजना में निवेश के लिए चालू वित्त वर्ष में इसके पहले दो बार अवसर दे चुकी है। इसी सीरीज की तीसरी और चौथी किस्त का नोटिफिकेशन वित्त मंत्रालय के तरफ से जारी किया गया है। सबसे पहले यह योजना 2015 में प्रारंभ किया गया था। सावरेन गोल्ड बॉन्ड की मेच्योरिटी पीरियड 8 साल का होता है। लेकिन 5 साल की अवधि पूरा हो जाने पर आपको निकालने का ऑप्शन दिया जाता है।

  • सोने में निवेश करने का एक सुरक्षित और सुविधाजनक तरीका
  • बाजार दरों से कम इश्यू प्राइस
  • 8% की सुनिश्चित वार्षिक ब्याज दर
  • 5 साल के बाद आंशिक निकासी की अनुमति

Investment Limit In Sovereign Gold Bond

इसमें निवेश की मैक्सिमम लिमिट इंडिविजुअल (Individual) के लिए 4 किलोग्राम, HUF के लिए 4 किलोग्राम और और ट्रस्ट तथा ट्रस्ट जैसी संस्था के लिए 20 किलोग्राम प्रति वित्त वर्ष की है।
सरकार का मकसद परंपरागत सोने की मांग काम करने घरेलू बचत का एक हिस्सा इस स्कीम में निवेश अवसर प्रदान करना है।

Sovereign Gold Bond कौन जारी करता है ?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री डेजिग्नेटिड पोस्ट ऑफिस, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE), नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), क्लीयरिंग कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (CCIL)के माध्यम से जारी किए जाएंगे। योजना में निवेश के लिए केवाईसी तथा पैन कार्ड होना अनिवार्य है ।

HOW TO Invest In Sovereign Gold Bond Scheme

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने के लिए, निवेशक किसी भी पंजीकृत बैंक, डाकघर या भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र में निवेशक का नाम, पता, पैन नंबर और बैंक खाता विवरण जैसे विवरण शामिल करने होंगे।

 Sovereign Gold Bond का प्राइस कैसे तय होता है ?

गोल्ड बॉन्ड की कीमत इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन लिमिटेड के लास्ट तीन दिन के सोने की कीमत के औसत के आधार पर किया जाता है।

निष्कर्ष

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड सोने में निवेश करने का एक आकर्षक विकल्प है। यह निवेशकों को बाजार दरों से कम इश्यू प्राइस पर सोने में निवेश करने की अनुमति देता है और 8% की सुनिश्चित वार्षिक ब्याज दर प्रदान करता है।

For more Govt Scheme Click

FAQS

1- Sovereign Gold Bond स्कीम क्या है ?

यह सरकारी योजना आपको सुरक्षित निवेश का अच्छे रिटर्न पर बेहतर मौका प्रदान करती है ।

2- Sovereign Gold Bond की विक्री कौन करता है ?

  • सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री डेजिग्नेटिड पोस्ट ऑफिस
  • बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE)
  • नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)
  • स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (SHCIL)
  • क्लीयरिंग कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (CCIL)के माध्यम से जारी किए जाएंगे

3- Sovereign Gold Bond का उद्देश्य क्या है ?

इस योजना का उद्देश्य परंपरागत सोने की मांग काम करने घरेलू बचत का एक हिस्सा इस स्कीम में निवेश का सुरक्षित अवसर प्रदान करना है। इससे सरकार को सोने का इम्पोर्ट कम करना पड़ेगा तथा विदेशी मुद्रा की वचत होगी .

4- एक Sovereign Gold Bond की कीमत क्या है ?

एक Bond की कीमत एक ग्राम सोने के बराबर होता है.

5- क्या Sovereign Gold Bond की कोई मैचुरिटी पीरियड है ?

हाँ , सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की मेच्योरिटी पीरियड 8 साल का होता है। लेकिन 5 साल की अवधि पूरा हो जाने पर आपको निकालने का ऑप्शन दिया जाता है

6- Sovereign Gold Bond स्कीम में निवेश की लिमिट क्या है ?

इस योजना में निवेश की मैक्सिमम लिमिट इंडिविजुअल (Individual) के लिए 4 किलोग्राम, HUF के लिए 4 किलोग्राम और और ट्रस्ट तथा ट्रस्ट जैसी संस्था के लिए 20 किलोग्राम प्रति वित्त वर्ष की है।

7- Sovereign Gold Bond में निवेश कैसे करें ?

आप सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने के लिए, निवेशक किसी भी पंजीकृत बैंक, डाकघर या भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

8-Sovereign Gold Bond की कीमत कैसे तय होता है ?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की कीमत इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन लिमिटेड के लास्ट तीन दिन के सोने की कीमत के औसत के आधार पर किया जाता है।

 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular