Monday, May 27, 2024
spot_img
HomeNewsSagar Success story : उम्र 27 साल ,4 साल की मेहनत, बन...

Sagar Success story : उम्र 27 साल ,4 साल की मेहनत, बन गयी 600 करोड़ की कम्पनी, कैसे हुआ सब कुछ ?

Sagar Success Story:देश के ज्यादातर युवा जहां पढ़ाई पूरी करने के बाद कई सालों तक नौकरी की तलाश में रहते हैं . वही एक युवा ऐसा भी है जिसका लक्ष्य था सीए बनने का ,लेकिन उसने 22 वर्ष की उम्र में खड़ी कर दी 600 करोड़ की कंपनी और वह भी मात्र 4 सालों में। आईए जानते हैं कौन है वह युवा,और उसने यह करिश्मा कैसे किया?

Sagar Success Story: परिचय  

देश में कई ऐसे युवा उद्यमी है जिन्होंने बहुत कम समय में अपने स्टार्टअप को फर्श से अर्श पर पहुंचा दिया। आज मैं बात कर रहा हूं 27 वर्ष के युवा उद्यमी सागर की। नोएडा के रहने वाले सागर गुप्ता अपने पिता के साथ मिलकर मात्र 4 सालों में 600 करोड़ की कंपनी खड़ी कर सभी को चौंका दिया। नॉएडा के रहने वाले सागर ने बीकॉम की पढ़ाई करने के बाद अपने पिता के साथ मिलकर इलेक्ट्रॉनिक सेक्टर में मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस 2017 में प्रारंभ किया। आज सागर की कंपनी एक्का  इलेक्ट्रॉनिक सेक्टर का बिजनेस 600 करोड़ के पार हो गया है।

एक्का इलेक्ट्रॉनिक के संस्थापक सागर गुप्ता जिन्हें ना तो कोई बिजनेस का अनुभव था और नहीं कोई बिजनेस का बैकग्राउंड। लेकिन अपने सूझबूझ से एक्का इलेक्ट्रॉनिक को बुलंदियों पर पहुंचा दिया । सागर के पिता भी दूसरे बच्चों की तरह चाहते थे कि सागर CA बने.

Sagar Success Story: जानिए सागर की शिक्षा के बारे में 

सागर दिल्ली यूनिवर्सिटी के श्री राम कॉलेज आफ कमर्स स्नातक की डिग्री पूरी की. लेकिन पढ़ाई के समय ही सागर के मन में कुछ अलग करने का विचार चल रहा था. सागर के पिता का पहले से सेमीकंडक्टर का बिजनेस था. पिछले 30 वर्षों से सागर के पिता सेमीकंडक्टर का ट्रेडिंग करने का काम कर रहे थे। सागर ने पढ़ाई पूरी करने के बाद मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में उतरने का निर्णय ले लिया. उन्होंने अपने पिता के साथ मिलकर एक्का इलेक्ट्रॉनिक्स की नींव रखी। उनके पिता ने भी उन्हें पूरा साथ दिया। एक्का इलेक्ट्रॉनिक्स एलइडी टेलीविजन बनाने का काम करती है।

Sagar Success story
Ekka Electronics

Sagar Success Story: जानिए सागर की कम्पनी के बारे में  

सागर अपने पिता की मदद से अपनी कंपनी में बने टीवी को बेचने के लिए कांटेक्ट बनाना शुरू किया। धीरे-धीरे सागर की कंपनी सैमसंग,तोशिवा, सोनी आदि जैसे ब्रांडेड कंपनियों के लिए एलईडी टेलीविजन बनाने का काम करने लगे। आज सागर की कंपनी 100 से ज्यादा कंपनियों के लिए एलइडी टीवी का निर्माण करती है। एक इलेक्ट्रॉनिक की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट हरियाणा के सोनीपत में स्थित है। कंपनी अगले तीन वर्षों में 1000 करोड़ का निवेश करने जा रही है।

सागर की सफलता के पीछे उनकी लगन एवं सोच है, जिसके कारण कम उम्र में एक सफल उद्दमी बन गए । सागर दूसरे उद्दमी के लिए प्रेरणास्रोत हैं ।
इस तरह के प्रेरणादायक कहानी पढ़ने के लिए क्लिक करें 
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular