Sunday, May 19, 2024
spot_img
HomeBlogA R Rahman: पिता का साया, मेहनत का साथ: कैसे गली के...

A R Rahman[2024]: पिता का साया, मेहनत का साथ: कैसे गली के लड़के बने विश्व विजेता संगीतकार।

A R Rahman  : संगीत के महारथी की अनकही कहानी

A R Rahman : परिचय

A R रहमान, जिनका असली नाम दिलीप कुमार है, एक ऐसे संगीतकार हैं जो अपने शानदार संगीत के लिए विख्यात हैं। भारतीय संगीत के इस महारथी ने अपने जीवन में अनेक कठिनाईयों का सामना करके, एक अद्वितीय संगीत सफर तय किया है। इस ब्लॉग में, हम ए.आर. रहमान के जीवन, उनके वैयक्तिक जीवन, परिवार, और उनके महत्वपूर्ण पुरस्कारों की चर्चा करेंगे।

A R rahman
A R रहमान Family (Image Credit to Instagam)

A R Rahman: बचपन से लेकर अबतक का योगदान

A R Rahman  का जन्म तमिलनाडु, भारत में हुआ था। उनके पिता, आरके शेखर, एक फिल्म स्कोर कंपोजर थे, जिन्होंने रहमान को बचपन में ही पियानो बजाना सिखाया। इस तरह से संगीत में परिचित होने का आरंभ हुआ और उन्होंने अपनी अद्वितीय संगीत धारा की शुरुआत की।

उनका जीवन पहले से ही कठिनाइयों भरा रहा है, क्योंकि उनके पिता की मौत के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति मुश्किल में आ गई थी। हालांकि, इन कठिनाइयों ने भी उन्हें आत्मनिर्भर और मजबूत बनने का एक मौका दिया। उन्होंने इस समय का सामना करते हुए अपनी मेहनत और आत्मविश्वास की बढ़ात बनाई, जो बाद में उनके संगीत करियर के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण साबित हुई।

A R Rahman Birth Date
A R Rahman (image credit to social media)

A R Rahman Birth date: आत्महत्या के ख्यालों से जंग

A R Rahman birth date: 6 Jan 1967 को जन्मे A R Rahman आज 57th बर्थडे है । जीवन की मुश्किल से भरी घड़ी में, A R Rahman ने आत्महत्या के ख्यालों का सामना किया। 25 साल की आयु में, जब उनकी आर्थिक स्थिति बहुती कठिनाईयों का सामना कर रही थी, तब उन्होंने अपनी मेहनत और संघर्ष के माध्यम से इस सभी चुनौती को पार किया। उनकी इस जंग की जीत ने दिखाया कि आत्मविश्वास और संघर्ष की भावना से किसी भी मुश्किल को आसानी से पार किया जा सकता है।

A R Rahman real name: नाम बदलकर ए.आर. रहमान बने

A R Rahman real name : ए.आर. रहमान ने अपने धर्मिक और नाम में परिवर्तन का निर्णय लिया जब उन्होंने हिन्दू धर्म को छोड़कर इस्लाम धर्म की पालना करने का निर्णय लिया। उन्होंने अपने पूर्ववत दिए गए नाम “दिलीप कुमार” को छोड़कर, “अल्लाह रक्खा रहमान” (ए.आर. रहमान) का अपना नाम अपनाया। इससे ही ए.आर. रहमान का नाम संगीत के क्षेत्र में बुलंदियों तक पहुंचे।

A R Rahman : परिवार में सौहार्द्य और समर्पण

ए.आर. रहमान का परिवार भी उनके जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। उनकी पत्नी का नाम “साइयारा बेगम” है और उनके साथ उनकी जीवन की यात्रा बहुत ही सफलतापूर्ण रही है। ए.आर. रहमान ने अपने जीवन संगी के साथ अपना समय समर्पित किया है और इसके बावजूद उनका संगीतकारी में उच्च स्तर का स्थान है।

A R Rahman Real Name
A R Rahman Reception(Image credit to Instagram)

A R Rahman : पुरस्कारों की बौछार

ए.आर. रहमान के संगीत के कमाल की पहचान का सबसे बड़ा साक्षात्कार उनके जीवन के पहले संगीत परियोजन “रोजा” के बाद हुआ। उन्होंने इस संगीत के लिए बहुतारका आदान-प्रदान किया और इसके लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार मिला। इसके बाद, उन्होंने अपने करियर में एक के बाद एक हिट और दिलचस्प संगीत प्रदान किया, जिससे उन्हें अनेक अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार मिले।

ए.आर. रहमान को भारत सरकार ने “पद्म भूषण” से सम्मानित किया है, जो भारत का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। उन्हें संगीत क्षेत्र में उनके योगदान के लिए भी विशेष रूप से मान्यता मिली है और उन्हें “द सिलेंस इंटरनेशनल म्यूजिक अवॉर्ड” में विशेष सम्मान भी प्राप्त हुआ है।

ए.आर. रहमान का संगीत हमें एक नए संगीतीय यात्रा पर ले जाता है, जिसमें उन्होंने भारतीय संगीत को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई है और एक नए संगीतीय दृष्टिकोण की स्थापना की है। उनकी कला और सृजनात्मकता ने उन्हें एक सशक्त संगीतकार के रूप में पहचान बनाए रखा है और उन्हें एक अनमोल रत्न के रूप में माना जाता है।

उन्होंने 2 ऑस्कर, 2 स्कोर्पियन अवॉर्ड्स, 2 अकेड़मी अवॉर्ड्स, 6 राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, 17 फिल्मफेयर साउथ अवार्ड्स और 16 फिल्मफेयर अवॉर्ड्स जीते हैं, जो उनके संगीतीय योगदान को साबित करते हैं। अबतक करीब कुल मिलाकर 138 नेशनल और इंटरनेशनल अवार्ड जीत चुके हैं। इनके साथ ही, उन्होंने बॉलीवुड के बाहर भी अपना अभिनय क्षमताओं का परिचय किया है और अपनी शानदार कला से सुनी गई है। 2010 में भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण अवार्ड से सम्मान्नित किया गया।

A R Rahman
A R Rahman-1 (Image Credit to social Media)

A R Rahman :अंत में

ए.आर. रहमान एक ऐसे कलाकार हैं जो न केवल संगीत के अद्वितीय प्रवीण हैं बल्कि उनकी जीवन यात्रा से हम सभी कुछ सीख सकते हैं। उनकी मेहनत, संघर्ष, और समर्पण ने उन्हें एक अनूठे स्थान पर पहुँचाया है, जहां उनकी दुनियाभर में उच्च सम्मान मिला है।ए.आर. रहमान की कहानी हमें यह सिखाती है कि संघर्ष और संघर्षशीलता के बावजूद, संगीत के माध्यम से अपने सपनों को हकीकत में बदलना संभव है। उनका यह सफर एक प्रेरणा स्रोत है, जो हर किसी को अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए प्रेरित करता है।उनके संगीत से हमें नई राहें, नई सोच और नई प्रेरणा मिलती है, जो हमें जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती हैं।

Tata Nano EV: Redefining Affordable Electric Mobility in 2024!

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular