Sunday, May 19, 2024
spot_img
HomeNewsItaly PM Georgia Meloni Deepfake Video Viral: डीपफेक के शिकार होने के...

Italy PM Georgia Meloni Deepfake Video Viral: डीपफेक के शिकार होने के बाद इटली के प्रधानमंत्री ने माँगा 100000 यूरो का मुआबजा , जानिए क्या है पूरा मामला।

Georgia Meloni Deepfake Video: टेक्नोलॉजी का लगातार हो रहे विकास से जहां आम आदमी का जनजीवन आसान हुआ है, वही इसके गलत इस्तेमाल होने के कारण लोगों की मुश्किलें भी बढी है। AI टेक्नोलॉजी के विकास होने से आए दिन डीपफेक वीडियो सोशल मीडिया पर देखने को मिल रहा है। कई जाने-माने प्रसिद्ध हस्ती इसका शिकार हो चुके हैं। भारत में भी इसका शिकार रश्मिका मंदाना,नोरा फतेही भी हो चुकी है। हाल ही में भारत के उद्योगपति मुकेश अंबानी के छोटे पुत्र अनंत अंबानी भी इसका शिकार हो चुके हैं .डीप फेक वीडियो बनाने वालों ने इटली के प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी को भी नहीं छोड़ा है।

Italy PM Georgia Meloni Deepfake Video 

यह घटना साल 2022 की है। उस समय जॉर्जिया मेलोनी इटली की प्रधानमंत्री नहीं बनी थी, उनके चेहरे को AI टेक्नोलॉजी की मदद से किसी एडल्ट स्टार के शरीर के साथ जोड़ा गया था. Georgia Meloni Deepfake Video वीडियो को अमेरिका के एडल्ट वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया . वीडियो अपलोड होने के बाद इसे लाखों लोगों ने देखा था.

एडल्ट साइट पर वीडियो अपलोड करने के लिए प्रयोग में लाये गए मोबाइल के द्वारा जांच एजेंसी आरोपियों तक पहुंच गई एवं उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है . इस मामले में दो आरोपी को पकड़ा गया है। इसमें एक की उम्र 40 साल तथा दूसरे की उम्र 73 साल है। दोनों रिश्ते में बाप बेटा है। फिलहाल जांच अधिकारी आगे की जांच में लगे हुए हैं।

Italy PM Georgia Meloni Deepfake Video
Italy PM Georgia Meloni Deepfake Video, image from social media

Italy PM Georgia Meloni ने मानहानि का मुक़दमा किया 

इटली के प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी ने दोनों आरोपियों पर मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है। पीएम मेलोनी की इस मामले में 2 जुलाई को इटली के सार्डिनियन शहर की एक अदालत में गवाही होनी है। प्रधानमंत्री ने मानहानि के रूप में 100000 यूरो का मुआवजा मांगा है। इंडियन करेंसी में लगभग 90 लाख रुपया मुआवजे की रकम होगी।

प्रधानमंत्री की कानूनी टीम के अनुसार यह मुआवजा प्रतीकात्मक रूप में मांगा गया है। ताकि इस तरह की शिकार महिलाओं में एक तरह का संदेश जाना चाहिए कि आपके ऊपर हुए अत्याचार के लिए चुप नहीं बैठे। प्रधानमंत्री का कहना है कि मानहानि के रूप में मिले मुआबजे की रकम को पुरुष हिंसा की शिकार महिलाओं की सहायता करने वाले किसी ट्रस्ट में दान कर कर देंगी।

इसे भी पढ़ें:Anant Ambani Deepfake Viral Video 2024: Misuse of AI , अनंत अम्बानी भी डीपफेक के हुए शिकार , जानिए इस वायरल वीडियो की सच्चाई।

Deepfake Video क्या है ?

डीपफेक एक एडिटेड वीडियो है जिसे लोग एआई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर किसी का भी चेहरा किसी दूसरे के शरीर के साथ अटैच कर देते हैं। आसानी से आप इस नकली वीडियो को पकड़ नहीं सकते। डीपफेक एडिटेड वीडियो अथवा फोटोग्राफ के रूप में हो सकता है। इस प्रकार के वीडियो बनाने के लिए कई वेबसाइट और ऐप उपलब्ध है जिसकी मदद से लोग इस प्रकार का गलत काम कर लोगों को बदनाम कर रहे हैं.

Italy PM Georgia Meloni Deepfake Video

Deepfake Video कैसे पहचाने ?/How To Identify Deepfake AI Videos?

  • आँख की मूवमेंट को देखें , फेक वीडियो में यह अस्वाभाविक लगेगा ।
  • पलक झपकने के दर पर गौर करें।
  • क्या मुस्कान स्वाभाविक है?
  • चहरे के भाव पर गौर करें। क्या चहरे के भाव ,बोले गए शब्दों से मेल खाता है
  • क्या सर और शरीर का मूवमेंट स्वाभाविक है ?

इन टूल्स की मदद से Deepfake Video का पता लगाएं 

  • AI पर आधारित टूल्स को इस्तेमाल कर शामे वोडो की पहचान कर सकते हैं। इस टूल को माइक्रोसॉफ्ट ने फेस फोरेंसिक ++ टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर बनाया है।
  • ब्राउज़र प्लग इन, रियलिटी डिफेंडर प्लग इन AI फॉउंडशन ने तैयार  किया है । इसके अलावे सर्फसेफ  से भी चेक कर सकते है
  • स्टार्टअप  : कई स्टार्टअप है जो फेक कंटेंट को पहचानने में मदद कर रहा है , जैसे -“OARO” .

इसे भी पढ़ें: Nora Fatehi Deepfake Video Viral 2024: नोरा फतेही बनी डीपफेक का शिकार,एक्ट्रेस बोलीं- ‘मैं शॉक्ड हूं’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular